Sun. Jan 16th, 2022

वर्ण (Varn) – वर्ण हिंदी व्याकरण का वह भाग है, जिसमें अक्षरों या वर्णों के उच्चारण, आकार, भेद तथा उनसे शब्द बनाने की जानकारी हो।

 

वर्णों की पहचान के लिए ‘चिन्ह’ बनाये गये हैं। जैसे – अ, आ, क, च, ट, त, प, य आदि।

 

अर्थात ‘वर्ण उस मूल ध्वनि को कहा जाता है जिसका खण्ड नहीं किया जा सकता है।’ जैसे – ‘राम’ शब्द ‘रा’ और ‘म’ के मिलने से बना है। इसके भी आगे चार खण्ड हो सकते है। जैसे – र् + आ + म् + अ = राम।

 

इन चार अलग-अलग खंडों को आगे खंडित नहीं किया जाता है, अतः ये ‘अक्षर‘ या ‘वर्ण‘ कहलाते हैं।

 

वर्ण के भेद कितने होते हैं। 

 

1 . स्वर वर्ण (Swar Varn)

 

2 . व्यंजन वर्ण (Vyanjan Varn)

By Admin