इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप में आए दिन कोई न कोई बदलाव होते रहता है. व्हाट्सएप में जरूरत के हिसाब से बदलाव या फिर यूं कहे समय की मांग को देखते हुए नए नए फीचर्स जारी किए जाते हैं. वहीं अब खबर आ रही है कि व्हाट्सएप कुछ चुनिंदा यूजर्स के लिए अब एक नई सर्विस देने जा रही है. हालांकि कंपनी इसपर अभी काम कर रही है, और उम्मीद की जा रही है कि इस फीचर को बहुत जल्द आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा. इस फीचर के तहत यूजर को क्या सुविधा मिल सकता है। तो चलिए जानते है.

1. क्या है व्हाट्सएप डेस्कटॉप वर्जन?

व्हाट्सएप के वेब वर्जन को 2015 में व्हाट्सएप ने लॉन्च किया था. इसकी मदद से कोई भी यूजर अपने व्हाट्सएप को एक सिंगल क्लिक की मदद से कंप्यूटर या लैपटॉप पर लॉग इन करके इस्तेमाल कर सकता है. इसके लिए सबसे पहले अपने लैपटॉप में web.whatsapp.com खोलें.
वेबसाइट खुलते ही आपको एक क्यूआर कोड नजर आता है. अब मोबाइल में व्हाट्सएप की सेटिंग में जाकर व्हाट्सएप वेब पर क्लिक करें. वहां आपको क्यूआर स्कैनर खुल जाएगा. इस स्कैनर से लैपटॉप में नजर आ रहे कोड को स्कैन करिये और अगले ही पल लैपटॉप में आपका व्हाट्सएप चलने लगेगा.

2. अब तक वेब वर्जन में क्या थी दिक्कत:

अभी तक जो व्हाट्सएप का वेब वर्जन है उसमें सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि अगर आपके फोन की बैटरी खत्म हो गयी. या फिर किसी और वजह से आपको अपना फोन स्विच ऑफ करना पड़ा तो लैपटॉप में चल रहा व्हाट्सएप अपने आप बंद हो जाता है. इसका मतलब कि लैपटॉप में व्हाट्सएप चलाने के लिए मोबाइल का ऑन होना एकदम जरुरी है.

3. क्या है व्हाट्सएप का नया फीचर?

मिली जानकारी के मुताबिक फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी व्हाट्सएप अपने ऐप के डेस्कटॉप वर्जन पर काम कर रही है. अगर सबकुछ ठीक रहा तो इस फीचर को बहुत जल्द आम लोगों के लिए उपलव्ध कराया जा सकता है. हालांकि इसको लेकर कोई तारीख का ऐलान नहीं किया गया है.
बता दें कि अगर ऐसा हुआ तो यूजर मोबाइल को इंटरनेट से कनेक्ट किए बिना मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में बड़े ही आसानी से कर सकेंगे. मतलब अब चाहे आपके फोन की बैटरी खत्म हो जाए, नेटवर्क चला जाए तो डाटा खत्म हो जाए, आपके लैपटॉप में व्हाट्सएप चलता रहेगा.

4. यूनिवर्सल विंडोज प्लेटफॉर्म ऐप:

इस बात की यह जानकारी Whatsapp लीकर अकाउंट डब्ल्यूएबीटाइंफो के ट्वीटर से प्राप्त हुई जिसमे कहा गया है कि कंपनी एक यूनिवर्सल विंडोज प्लेटफॉर्म (यूडब्ल्यूपी) ऐप को डेवेलोप करने में जुटी हुई है. इतना ही नहीं कंपनी इसके साथ ही एक और मल्टी-प्लेटफॉर्म सिस्टम पर भी काम कर रही है.
इसकी मदद से यूजर एक साथ कई डिवाइस के माध्यम से अपनी चैट और प्रोफाइल में एक्सेस कर सकेंगे. यह फीचर खातौर पर मल्टीनेशन कंपनियों के ऑफिस में इस्तेमाल करने के लिए डिजाईन किया जा रहा है. अभी तक बड़ी बड़ी कंपनियां ऑफिस में ग्रुप चैट के लिए स्लैक (Slack), फ्लॉक (Flock), हैंगआउट (Google Hangout) जैसे इंस्टेंट मैसेजिंग एप पर निर्भर हैं. व्हाट्सएप के इस नए फीचर के आने से इन सबको तगड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद है.

5. व्हाट्सएप के अन्य नए फीचर:

इसके अलावा भी आने वाले दिनों में आपको कई नए फीचर देखने को मिल सकते हैं.
इसी साल शुरू हो सकती है पेमेंट सेवा.
आपकी जानकारी के लिए बता दें की Whatsapp Pay को भारत में इस साल के आखिरी तक लॉन्च कर दिया जाएगा. हालांकि अभी इस फीचर को कंपनी टेस्टिंग कर रही है. अगर यह फीचर लॉन्च हो जाएगा तो इसकी मदद से यूजर घर बैठे ही किसी भी अकाउंट में पैसे को ट्रान्सफर कर सकते है.

WhatsApp-Payments

WhatsApp पर पेमेंट करना उतना ही आसान होगा जितना घर बैठे किसी को मैसेज सेंड करना है. WhatsApp के ग्लोबल हेड विल कैथकार्ट की मानें तो WhatsApp Payment को UPI के तहत ही लॉन्च किया जाएगा. यह सेवा देश की तेजी से बढ़ती डिजिटल इकोनॉमी को बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है. हालांकि भारत में WhatsApp इस्तेमाल करने वालों की संख्या करीब 40 करोड़ से भी ज्यादा है. ऐसे में यह फीचर तमाम यूजर के लिए किसी सौगात से कम नहीं होगा.

6. फेक न्यूज की पहचान:

इस फीचर को भी बहुत जल्द आम यूजर के लिए उपलव्ध कराया जा सकता है. इस फीचर की मदद से आप किसी भी फेक न्यूज़ के बारे में आसानी से पता लगा सकते है. इतना ही नहीं इस फीचर की मदद से मैसेज फॉरवर्ड होने की फ्रीक्वेंसी का भी पता लगाया जा सकता है. याद दिला दे कि WHATSAPP काफी पहले ही फॉरवर्ड किए गए मैसेज पर एक लेबल की शुरुआत कर दी थी. जिसके तहत कोई भी मेसेज को 5 बार से ज्यादा फॉरवर्ड करने पर Double Arrow का लेबल दिखने लगता है.


कंपनी के अनुसार इसके पीछे का मकसद सिर्फ इतना है कि फेक न्यूज़ को रोकने में और WhatsApp से जुड़ी प्राइवेसी को पहले के मुकाबले ज्यादा मजबूत बनाया जा सके. आसान भाषा में समझे तो इसकी मदद से फ़ॉर्वर्डेड मैसेज का पता बड़े ही आसानी से लगाया जा सकता है.