आजकल के वर्क कल्चर और फास्ट फूड खाने की आदत के कारण बॉडी को हेल्दी और फिट रखना एक चैलेंज और बहुत ही ज्यादा कठिन टास्क बन गया है। बॉडी को हेल्दी रखने के लिए आजकल लोग ना जानें क्या-क्या करते हैं। कोई खाने में बदलाव करता है कोई एक्सरसाइज और कुछ तो अपनी रूटीन लाइफ को ही बदलने में लगे हुए रहते हैं, लेकिन कुछ दिनों के बाद हम वापस उसी चार्ट पर आ जाते हैं जहां से हमने शुरुआत की होती है।

भागदौड़ भरी जिंदगी और बदलती हुई लाइफस्टाइल की वजह से आजकल या तो लोगों का वजन बहुत ज्यादा रहता है या कुछ ज्यादा ही कम। स्ट्रेस वाली लाइफस्टाइल में तो हम इन चीजों को नोटिस नहीं करते हैं, लेकिन जब वक्त बीत जाता है तो हमें बहुत सारी चीजें परेशान करती हैं।

1. सही उम्र से करें वजन का आंकलन:

ऐसे में हेल्दी रहने के लिए सही डाइट के बारे में जानना बहुत जरूरी है। हेल्दी वही कहलाता है, जिसकी उम्र के हिसाब से हाइट और वेट बैलेंस हो। अगर यह बैलेंसिंग नहीं होगा, तो वह व्यक्ति हेल्दी नहीं कहलाएगा। आजकल देखा जाता है कि लोग बिना कुछ सोचे समझें खुद का वजन बढ़ते हुए देखते हैं और एक्सरसाइज करना शुरू कर देते हैं, जिससे कई बार परेशानियां होने लगती है।

2. पहले जरूरत को जानें:

वज़न कम करने से पहले यह जानना बहुत आवश्यक है कि आपको आखिर वज़न कम करने की ज़रूरत है या नहीं। आमतौर पर वजन कम करना आपके शरीर की हाइट और आपकी उम्र पर निर्भर करता है। अपने शरीर के वजन को मैनेज करने से पहले इस बात को नोट कर लीजिए की क्या वाकई आपको वजन को कम करने की जरूरत है? शरीर की लंबाई के अनुसार हमारा वजन कितना होना चाहिए? यह एक सामान्य प्रश्न है जो हर किसी के मन में कभी न कभी रहता है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे है आपकी उम्र के हिसाब से आपका वजन कितना होना चाहिए, जिससे आप हर उम्र में हेल्दी और फिट बनें रहें।

3. महिलाओं और पुरुषों का वजन होता है अलग:

आदर्श वज़न व्यक्ति विशेष के लिंग, उम्र, लम्बाई और शरीर के ढांचे पर निर्भर करता है, जैसे कि महिलाओं और पुरुषों में आदर्श वजन अलग-अलग होता है.. लिगं के हिसाब से बात की जाए तो 16 साल की उम्र में लड़को का वजन जहां 50 से 60 के बीच होना चाहिए, वहीं लड़कियों का वजन उम्र भी लगभग 45-50 किलो के बीच ही होना चाहिए।

वहीं आदर्श वजन के लिए सबसे अच्छा मानक व्यक्ति के लम्बाई को माना जाता है,यानी कि जिसकी लंबाई अधिक होगी उसका वजन ज्यादा और जिसकी लंबाई कम उसका वजन उसी के अनुरूप कम होना चाहिए। इसके लिए आपको बॉडी मास इंडेस्क यानी बीएमआई स्तर की जानकारी जरूरी है।

4. लंबाई के हिसाब से वजन जानने से पहले बीएमआई को जानिए:

किस लंबाई में वजन कितना होना चाहिए यह जानने से पहले बीएमआई को जानिए। बीएमआई आपके शरीर का वजन और लंबाई का औसत होता है। वजन जानने का यह एक सिंपल और खास तरीका है। बीएमआई के जरिए आप जान सकते हैं कि शरीर का वजन ज्यादा है कम है।

बीएमआई को निकलने के लिए आप वजन (किलोग्राम) / (ऊंचाई X ऊंचाई) (मीटर में)) का कैलकुलेशन करिए। उदाहरण के तौर पर अगर आपका वजन 60 किलो है और लंबाई 5.8 फीट यानी 1.76784 मीटर है। तो आप ऊपर दिए गए फॉर्मूले के जरिए बीएमआई निकाल सकते हैं।
यहां आपका बीएमआई 60 / (1.76 x 1.76) = 19.36 हुआ।

आमतौर पर अगर आपका बीएमआई 18.5 से लेकर 24.9 तक के बीच है तो मतलब आप स्वस्थ हैं और अगर आपका बीएमआई 25 या इससे ज्यादा है तो इसका मतलब है कि आप ओवरवेट हैं।

5. पुरुषों के लिए ऊंचाई और वजन का चार्ट

Height Weight
InchesCentimetersKilograms
4’6”13728.5 – 34.9
4’7”14030.8 – 38.1
4’8”14233.5 – 40.8
4’9”14535.8 – 43.9
4’10”14738.5 – 46.7
4’11”15040.8 – 49.9
5’0”1524.1 – 53
5’1”15545.8 – 55.8 
5’2”15748.1 – 58.9
5’3”16050.8 – 60.1 
5’4”1635.0 – 64.8 
5’5”16555.3 – 68
5’6”16858 – 70.7
5’7”17060.3 – 73.9 
5’8”17363 – 70.6
5’9”17565.3 – 79.8
5’10”17867.6 – 83
5’11”18070.3 – 85.7
6’0”18372.6 – 88.9

6. महिलाओं के लिए ऊंचाई और वजन का चार्ट:

Height Weight
InchesCentimetersKilograms
4’6”13728.5 – 34.9
4’7”14030.8 – 37.6
4’8”14232.6 – 39.9
4’9”14534.9 – 42.6
4’10”14736.4 – 44.9
4’11”15039 – 47.6
5’0”15240.8 – 49.9
5’1”15543.1 – 52.6
5’2”15744.9 – 54.9
5’3”16047.2 – 57.6
5’4”16349 – 59.9 
5’5”16551.2 – 62.6
5’6”16853 – 64.8
5’7”17055.3 – 67.6 
5’8”17357.1 – 69.8
5’9”17559.4 – 72.6
5’10”17861.2 – 74.8
5’11”18063.5 – 77.5
6’0”18365.3 – 79.8

ऊपर दी गई लिस्ट में आप देख सकते हैं कि कैसे आपके लिंग और लंबाई के हिसाब से आपका वजन कितना होना चाहिए। अगर आप महिला हैं और आपकी हाइट 4.10 फीट है तो वजन 43.5-48.5 किलो तक होना चाहिए। ठीक इसी तरह अगर आप पुरुष हैं और आपकी हाइट 5.2 फीट है तो वजन 52.8-58.5 किलो के बीच होना चाहिए।

तो अब आपको किसी चीज की चिंता करने की जरूरत नहीं है आप ऊपर दिए गए चार्ट के हिसाब से अपना लिंग चुन सकते हैं और हाइट के हिसाब से वजन को संतुलित कर सकते हैं। अगर, आपको चार्ट समझने में किसी तरह की परेशानी हो सकती है तो बीएमआई के जरिए वजन निकाल सकते हैं।

7. बीमारियों को कंट्रोल करने में होगी आसानी:

इस बात को तो आप अच्छे से जान गए होंगे कि अगर, आपको अपनी हाइट के हिसाब से वजन की जानकारी है तो आप खुद को बीमारियों के दूर रख सकते हैं। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि बीएसआई की सही जानकारी रहने वाले लोगों को बीमारियों से लड़ने में आसानी रहती है।

बीएसआई का पता होने से इंसान ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल, हॉर्ट प्रॉब्लम, डायबिटीज जैसी बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। साथ ही इस तरह की बीमारी शरीर को घेरे हुए है तो उसे भी आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं।